Book Reviews

Behaya | Vineeta Asthana | Book Review

  • Author: Vineeta Asthana
  • Publisher: Hind Yugm; First edition (1 January 2021)
  • Language: Hindi
  • Paperback: 155 pages

Pink Flowers Twitter Header

एक सफल महिला के पीछे किसका हाथ होता है? उसकी कामयाबी का श्रेय किसे दिया जाना चाहिए? क्या समाज एक महिला की सफ़लता को कभी भी हज़म कर पायेगा?

बेहया कहानी है सिया की. बेहया कहानी है उस महिला की जिसने अपनी मेहनत के दम पर अपना नाम कमाया. बेहया कहानी है उन तमाम औरतों की जो अपने घर, परिवार व काम की ज़िम्मेदारी बखूबी संभालती हैं. अपनी लगन से वे जीवन में ऊंचाइयां छूती हैं. परन्तु समाज को उनकी सफलताओं में कुछ गलत नज़र आता है. वे उस महिला के विषय में चार बट्टे करते हैं, उस पर लांछन लगाते हैं. और फिर किसी रोज़ महिला सशक्तिकरण का बिगुल बजाते हैं.

सिया और यश ने अपने वैवाहिक जीवन की नींव प्रेम पर रखी थी. दोनों ने ही अथक परिश्रम व संघर्ष के पश्चात जीवन में सुनहरे दिन देखे थे. हालांकि कुछ लोगों को उनके बीच का तारतम्य, परस्पर प्रेम व समझ नागवार गुज़रा जिसके चलते यश ने सिया पर शक शुरू किया. उसके लगता था की उसकी पत्नी अन्य पुरुषों से सम्बन्ध रखती है. यहाँ तक की उसे अपने बच्चों के पिता होने पर भी संदेह हुआ. इसी की वजह से वह सालों साल सिया को प्रताड़ित करता रहा. फिर सिया के जीवन में दिलफेंक अभिज्ञान आया जिसने उसे खुद पर विश्वास करना सिखाया. उसने सिया के मन को काफी सहजता से पढ़ लिया, उसकी कराह को सुन लिया. एक प्लेटोनिक समबन्ध को लेखिका ने अभिज्ञान और सिया के माध्यम से सहजता से दर्शाया.

बेहया लेखिका विनीता अस्थाना जी का एक प्रशंसनीय प्रयास है जो समाज में व्याप्त खराब मानसिकता का विश्लेषण करता है. यह पुस्तक इस बात पर ज़ोर देती है की किस प्रकार एक महिला को हर कदम पर अग्निपरीक्षा देनी होती है. दुःख इस बात का है की इसके उपरान्त भी उसकी सफलता को उसके चरित्र से जोड़कर देखा जाता है. यह पुस्तक काफी साहसिक रूप से वैवाहिक बलात्कार पर भी रौशनी डालती है. इसके साथ ही वह प्लेटोनिक प्रेम संबंधों को खूबसूरती से उकेरती है. यह पुस्तक मानवीय संवेदनाओं को सरलता से दर्शाते हुए एक महिला की आज़ादी की गुहार को भी प्रस्तुत करती है.

कुल मिलाकर बेहया एक महिला को शक्ति देती है व इस बात का सन्देश देती है की यदि आप अड़े रहें तो कोई भी मुश्किल आपको आगे बढ़ने से नहीं रोक सकती.

Floral Background Twitter Header

Buy your copy:

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s